Top-Level Domain (TLD) क्या है और कितने प्रकार के होते है?

0

Top-Level Domain (TLD) को कभी कभी Internet domain extension भी कहा जाता है और ये Internet के किसी Domain Name का आखरी Section होता है, जो Domain के आखरी Dot के बाद होता है और जिसकी मदद से ये पूरा Fully Qualified Domain Name बन जाता है|

उदाहरण के तौर पर Google.com और Facebook.com दोनों का Top-Level Domain (TLD), .Com है लेकिन Wikipedia.org का Top-Level Domain, .Org है|

Top-Level Domain (TLD) का उद्देश्य क्या है?

Top-Level Domain से ये समझ में आता है की Website किस चीज़ के बारे में है और वो Website कहाँ का है|

उदाहरण के तौर पर जब आप कभी .gov address को देखते है जैसे www.whitehouse.gov, तब आपको पता चल जाता है की इस Website में जो चीज़ मौजूद है वो किसी देश के सरकारी कामो से सम्बंधित है

Top-Level Domain में जब .ca आएगा जैसे की www.cbc.ca, तो इससे ये पता चलता है की ये कोई Canada का Organization के लिए है|

Top-Level Domain (TLD) का एक Side Effects भी है| क्यूंकि इसमें कई सारे विकल्प मौजूद है, तो कई सारे Website एक जैसा नाम का ही उपयोग कर सकते है लेकिन वो एकदम अलग Sites या Companies हो सकता है|

उदाहरण के तौर पर Hindimegyan.com ये Website है, लेकिन Hindimegyan.in एक दूसरा Website है जिसका नाम Same है लेकिन दोनों का Top-Level Domain (TLD) अलग अलग है| तो इसका मतलब है की ये दोनों बिलकुल अलग अलग Website है|

यही कारण है की कुछ Companies एक से ज्यादा Top-Level Domain (TLD) को रजिस्टर करते है, ताकि कोई भी व्यक्ति अगर किसी दुसरे URL में भी जाए तब भी वो उस Company के ही Website में पहुँच पाए| उदाहरण के तौर पर आप Google.com को Enter करके Google के Website में पहुँच जाएंगे, अगर आप Google.net भी Enter करेंगे तब भी आप Google के Website में पहुँच जाएंगे| लेकिन Google.org एक अलग Website है|

Top-Level Domains (TLD) कितने प्रकार के होते है?

वैसे तो कई तरह के Top-Level Domains होते है, उनमे से बहुत को आपने पहले भी देखा होगा|

कुछ Top-Level Domain (TLD) को कोई भी व्यक्ति या कोई भी Business के द्वारा रजिस्टर किया जा सकता है, लेकिन कुछ Top-Level Domain (TLD) के कई विशेष शर्तो को पूरा करना पड़ता है|

Top-Level Domain (TLD), 4 प्रकार के होते है- Generic top-level domains (gTLD), Country-code top-level domains (ccTLD), Infrastructure top-level domain (arpa), और Internationalized top-level domains (IDNs).

1. Generic Top-level Domains (gTLDs)

Generic Top-level Domains एक साधारण Domain Names होता है, जिसके बारे में आपको शायद पता ही होगा| इन सब को अपने Domain के लिए कोई भी रजिस्टर कर सकता है|

  •   .com (commercial)
  •   .org (organization)
  •   .net (network)
  •   .name (name)
  •   .biz (business)
  •   .info (information)

और भी अतिरिक्त Generic Top-level Domains (gTLDs) उपलब्द है जिसे Sponsored top-level domains कहा जाता है और इसपर प्रतिबन्ध लगा हुवा रहता है, क्यूंकि इसे रजिस्टर करने के कुछ ख़ास Guidelines को पूरा करना जरुरी है|

  •  .int (international): इन सबका उपयोग International Organization के द्वारा किया जाता है, और इसके लिए United Nations registration number का जरुरत पड़ता है|
  • .edu (education): इसका उपयोग सिर्फ Education Institutions ही कर सकते है|
  • .gov (government): इसका उपयोग सिर्फ U.S. government के संस्थाओं द्वारा ही किया जा सकता है|
  • .mil (military): इसका उपयोग सिर्फ U.S Military ही कर सकते है|

2. Country Code Top-level Domains (ccTLD)

Countries और Territories के लिए Top-Level Domains उपलब्द होता है, और ये देश के Two Letter के ISO Code के आधार पर होता है| यहाँ पर कुछ पोपुलर Country code top-level domains का उदाहरण दिया गया है|

  • .us: United States
  • .ca: Canada
  • .nl: Netherlands
  • .de: Germany
  • .fr: France
  • .ch: Switzerland
  • .cn: China
  • .in: India
  • .ru: Russia
  • .mx: Mexico
  • .jp: Japan
  • .br: Brazil

यहाँ पर आप Generic top-level domain और Country code top-level domain का पूरा लिस्ट देख सकते है-  Internet Assigned Numbers Authority (IANA).

3. Infrastructure Top-Level Domains (arpa)

इस Top-level domain का Full Form है- Address and Routing Parameter Area और इसका उपयोग खास करके technical infrastructure purposes के लिए किया जाता है जैसे किसी IP Adress से किसी Hostname का समाधान करना है|

4. Internationalized Top-Level Domains (IDNs)

Internationalized top-level domains वो Top-level domains होता है जिसे language-native alphabet में दिखाया जाता है|

उदाहरण के तौर पर, .рф, Russian Federation का Internationalized top-level domain है|

नया Top-Level Domains का पता कैसे करे?

अगर आप ऊपर दिए गए IANA के लिस्ट को Follow करते है, तो आपको ये पता चलेगा की ऐसे कई सारे Top-Level Domains (TLD) है जिसके बारे में आपने पहले कभी नहीं सुना होगा| .Google एक ऐसा Top-Level Domain (TLD) है जिसके बारे में आपने शायद ही पहले कभी सुना होगा|

Google Registry एक जगह है जहाँ पर आप कुछ Top-Level Domain (TLD) देखोगे जो रिलीज़ होने वाले है, ताकि नया Websites उस Top-Level Domain (TLD) का उपयोग कर पाए|

नया रिलीज़ हुवा और भविष्य में आने वाला Top-Level Domain (TLD) पोपुलर Domain registrar websites जैसे Namecheap और GoDaddy में उपलब्द है| और ये सब आपको उनके New TLDs और New Domain Extensions pages में मिल जाएगा|