URL क्या है और URL में .COM का मतलब क्या होता है?

0

Uniform Resource Locator (URL) का उपयोग करके हम Internet के किसी File का Location के बारे में पता लगा सकते है| इसका उपयोग करके Websites को Open किया जाता है| और इसके साथ में इसका उपयोग करके हम images, videos, software programs और अन्य प्रकार के files को डाउनलोड कर सकते है, और ये सब चीज़ एक Server में Hosted रहता है| Top level domain kya hai?

अपने कंप्यूटर में एक Local File खोलने के लिए बस आपको उसपर Double-Click करना पड़ता है, लेकिन किसी remote computers जैसे web servers में Files को खोलने के लिए, हमें URL का उपयोग करना पड़ता है ताकि हमारे Web browsers को पता चल सके की हमें किस URL में जाना है|

Uniform Resource Locators को आमतौर पर URLs कहा जाता है, लेकिन इसे website addresses भी कहा जाता है, अगर हम उस URL की बात कर रहे है जो HTTP या HTTPS protocol का उपयोग करता है| URL को पहले Universal Resource Locator कहा जाता था और उसके बाद 1994 से इसे Uniform Resource Locator कहा जाता है|

हम हमेशा से URL का उपयोग करते है जैसे की Google के वेबसाइट को Access करने के लिए हम https://www.google.com टाइप करते है|

URL का Structure

URL को कई भाग में बाटा जाता है, और किसी Remote file को Access करने के लिए हर एक का काम अलग अलग होता है| HTTP और FTP URLs का structure एक जैसा ही होता है जैसे की protocol://hostname/fileinfo. उदाहरण के तौर पर FTP file को URL से Access करने के बाद हमें कुछ इस तरह दिखेगा|

FTP://servername/folder/otherfolder/programdetails.docx

Https- Https एक protocol होता है (जैसे की FTP एक protocol है) इससे पता चलता है की हम किस प्रकार के Server के साथ Communicate कर रहे है|

Security- ये Hostname होता है जिसका उपयोग करके किसी ख़ास वेबसाइट को Access किया जाता है|

Googleblog- ये Domain name होता है|

.Com- इसे Top Level Domain (TLD) कहा जाता है, और इसके अलावा कुछ अन्य .net, .org, .co.uk इत्यादि है|

security.googleblog.com– इस Group को Fully Qualified Domain Name (FQDN) कहा जाता है|

URL से सम्बंधित कुछ सवाल और उसका जवाब

1. क्या हम एक URL को Block कर सकते है?

इसका जवाब है हाँ, हम किसी URL को Block कर सकते है| हम एक वेबसाइट को कैसे Block करेंगे ये इस बात पर निर्भर है की हम किस Device का उपयोग कर रहे है और किस Operating System का उपयोग कर रहे है| कई Web browsers से हम किसी Specific Websites को Block कर सकते है| इसके साथ हम अपने Router Settings की मदद से अपने पुरे Network में एक URL को Block कर सकते है|

2. Vanity URL क्या होता है?

Vanity URL एक छोटा और आसानी से याद रहने वाला URL होता है जो किसी लम्बा या Complex URL से Redirect होता है| Vanity URL का Setup करने के लिए आप एक URL Shortener का उपयोग कर सकते है जिसमे Custom domains का सुविधा दिया गया है|

3. Callback URL क्या होता है?

Callback URL एक Page होता है जहाँ Users किसी अन्य website या program में कोई कार्य करने के बाद यहाँ Redirect होकर आता है| उदाहरण के तौर पर, आप एक वेबसाइट में कोई सामान खरीदते है, और आप किसी third-party payment processor में चले जाते है तब आप किसी callback URL में Redirect हो जाते है| ये आमतौर पर Original Site का confirmation page होता है जो हमें Payment पूरा हो जाने के बाद मिलता है|

4. HTTP और HTTPS म क्या अंतर है?

HTTP और HTTPS में सबसे बड़ा अंतर ये होता है की HTTPS ज्यादा सुरक्षित होता है| इसलिए इसका उपयोग उन Websites में करना चाहिए जहाँ पर सुरक्षित Data को Transfer करने का जरुरत पड़ता है|

URL में .Com का मतलब क्या होता है?

कई सारे Web Adresses के अंत में .COM का उपयोग किया जाता है जैसे की (Hindimegyan.com) और इसे Top-Level Domain (TLD) कहा जाता है| जिस Domain के अंत में .Com होता वो सबसे साधारण Generic top-level domain है| .COM TLD एक Commercial Domain होता है जिससे पता चलता है की उस Website में किस तरह का Content को Publish किया गया है| ये Content के मामले में दुसरे Top-Level Domain (TLD) से अलग होता है जैसे की .mil का उपयोग U.S. military websites के लिए किया जाता है और .edu का उपयोग Educational websites के लिए किया जाता है|

.Com URL के उपयोग करने का कोई विशेष महत्व नहीं है| एक .Com Adress को एक महत्वपूर्ण Website के रूप में देखा जाता है क्यूंकि ये सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला Top-Level Domain (TLD) है| हालाकि इसमें और .org, .biz, .info, .biz के साथ अन्य Generic top-level domains में कोई Technical Difference नहीं है|

.COM Website को रजिस्टर करना

Top level domain kya hai

World Wide Web के शुरुवात में इस 6 Top-Level Domains का उपयोग होता था| Adress के अंत में .Com उन Publishers के लिए था जो अपनी सेवाओं के माध्यम से लाभ कमाते थे| 6 Top-Level Domains जो WWW के शुरुवात में भी उपयोग होता था और आज भी उपयोग हो रहा है|

  • .com
  • .net
  • .org
  • .edu
  • .gov
  • .mil

आज के समय में सैकरो Top-Level Domains मौजूद है और करोरो Websites मौजूद है| एक .com domain name का ये मतलब नहीं होता है की वो Website एक Licensed business है| Internet registration authorities ने ये अनुमति दे दिया है की कोई भी .Com Domain को रजिस्टर कर सकता है|

.COM Website कैसे खरीदा जाता है?

Top level domain kya hai

Domain registrars लोगो के लिए Domain Names को रिज़र्व करके रखता है| जब कोई व्यक्ति Domain Name को रजिस्टर करता है तब General registrars उन्हें अनुमति देता है की वे उपलब्द Top-Level Domain (TLD) में से किसी को चुन सकते है| ज्यादातर परिस्थिति में Domain Names काफी सस्ता होता है, लेकिन कई Premium Domain Names होता है जिसका कीमत काफी ज्यादा होता है|

Domain-name registrars जो Top-Level .com बेचता है वो ये सब है:

1. Google Domains

2. Namecheap

3. GoDaddy

4. 1 & 1

5. Name.com

अन्य Top-Level Domains क्या क्या है?

साधारण पब्लिक के लिए सैकरो Top-Level Domains (TLD) उपलब्द है जिसमे .Org और .Net भी शामिल है जिसे शुरुवात में Nonprofit organizations और Network और Computer topics के लिए उपयोग किया जाता था| .Com के तरह ही ये सब Top-Level Domains (TLD) को कोई ख़ास Organizations या Individuals ही उपयोग नहीं कर सकते है, बल्कि इसे कोई भी खरीद सकता है|

ज्यादातर Top-Level Domains (TLD), 3 Letters का उपयोग करता है, लेकिन 2 Letter का भी Top-Level Domains (TLD) मौजूद है जिसे Country code top-level domains या ccTLDs कहा जाता है| इसका कुछ उदाहरण है France के लिए .fr , Russia के लिए .ru , United States के लिए .us और Brazil के लिए .br का उपयोग किया जाता है|

अन्य Top Level Domains (TLD) जो .Com के तरह ही होता है वो Sponsored हो सकता है, या फिर उसे रजिस्टर या उसका उपयोग करने के लिए उसमे कुछ ख़ास प्रतिबन्ध लगा हुवा रहता है| Internet Assigned Numbers Authority website का Root Zone Database के नाम से एक Page है जो सभी Top-Level Domain (TLD) के मास्टर इंडेक्स के रूप में कार्य करता है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here