Search Engine क्या है और कैसे काम करता है?

0

आप Search Engine जैसे Google, Bing, Yahoo इत्यादि का उपयोग जरुर करते होंगे, लेकिन आपके मन में कभी न कभी ये सवाल जरुर आया होगा की आखिर Search Engine है क्या, ये काम कैसे करता है और ये हमारे लिए जरूरतमंद क्यूँ है? Search Engine Kya Hai की पूरी जानकारी|

वैसे तो Search Engine एक Tool है जिसका उपयोग करके हम किसी ख़ास विषय के बारे में पता लगाते है| Web search engines एक जगह है जहाँ पर हम किसी Word या Phrase को Enter करते है और हमें उन Web Pages का List मिल जाता है जो हमारे द्वारा Search किया गया Word या Phrase से मिलता जुलता रहता है|

सभी Web search engines एक जैसे ही काम नहीं करता है, लेकिन ज्यादातर crawler-based होता है, मतलब ये लगातार Pages को Web में ढूंडते रहते है, ताकि उसे ये अपने Index में डाल सके| उदाहरण के तौर पर अगर हमने किसी Search Engine में “How to lose weight” को Search किया, तब Search Engine का ये काम होता है की ये हमें इस Search का बेहतर से बेहतर परिणाम का List दिखाए जिससे हमारे समस्या का समाधान हो जाए|

Web को Browse करने के लिए Search Engine सबसे मुख्य तरीका है और इसमें कई अलग तरह का विकल्प भी दिया गया होता है| सभी Search Engine में Advanced Search का विकल्प मिलता है, जिससे आपका Search और भी ज्यादा बेहतर होगा और आप जो ढूंड रहे है वो आपको आसानी से मिल जाएगा|

Search Engine कैसे काम करता है?

Search Engine आमतौर पर Spiders या Spiderbots नाम के Software का उपयोग करके अपने आप ही Website Listing को Create कर लेता है, जो Web Pages को Crawl करता है| ये एक Site के Link को दुसरे Pages में Follow करता है और इस प्रक्रिया में जानकारियों को Index करता है|

Search Engine में जो Crawler Bots होता है वो पुरे Web में घूमता है और इसके लिए वे एक Link से दुसरे Link में जम्प करते है और साथ में हर Site का robots.txt file को भी चेक करता है| इस File में एक Listing होता है की Search Engines उस Site के किन Pages को Crawl करे| इस तरीके से वेबसाइट का मालिक किसी विशेष पेज को Index करने से Search Engine को ब्लॉक कर सकते हैं मतलब Website के मालिक के हाथ में है की उनके Site के किस Pages को Search Engine, Index करे और किस Pages को Index न करे|

Software spiders उन Pages में वापस जरुर आता है जो पहले से ही Search Engine में लगातार Crawl होते आ रहे है, और फिर ये उन Pages के Updates और Changes को चेक करता है, और इसे जो जो Update और Changes मिलता है वो Search Engine के Database में चला जाता है|

Search Engine का उपयोग करना

हर एक Search Engine अलग होता है, लेकिन सभी में एक सामान्य विचार ये है की हम Search Box में किसी चीज़ को Type करते है और हमे परिणाम मिल जाता है| कुछ Search Engine में Reverse Search का भी विकल्प दिया होता है, जिसकी मदद से आप Web को Sound clip या Picture file के जरिए ब्राउज कर सकते है|

कुछ Search Engine सिर्फ Search Box के अलावा भी कई अतिरिक्त Features प्रदान करता है| आप special text commands या buttons का उपयोग कर सकते है जो Results को Filter कर देगा और जो परिणाम आपके Search के हिसाब से उचित नहीं होगा उसे ये Remove कर देगा|

Search Engine का कुछ उदाहरण

कई सारा Search Engines मौजूद है, लेकिन आप जिसका उपयोग करने के लिए चुनते है वो इसपर निर्भर है की आप इससे करना क्या चाहते है|

1. Web Page Search Engines: ये कई कामो के लिए होता है, ये हर तरह के Data का पता लगाता है जैसे General web pages, news, help documents, online games, images, videos, files इत्यादि|

2. Image Search Engines: इसमें आप photos, drawings, clip art, wallpapers इत्यादि को Search कर सकते है|

3. Video Search Engines: इसमें music videos, news videos, live stream के साथ और कई चीजों का पता लगाया जा सकता है|

4. Mobile Search Engines: ये एक regular search engine होता है जिसे छोटे स्क्रीन में Results को Search करने और दिखाने के लिए Optimize किया जाता है|

5. Job Search Engines: इसमें आप Job Postings का पता लगा सकते है|

6. Invisible Web Search Engines: ये वो Tool है जिसकी मदद से आप Invisible Web को Browse कर सकते है|

Search Engine से जुड़े कुछ अन्य Facts

अगर आपको अपने Searches का Up-to-date Results मिल रहा है तो आपको Search Engine को Manually अपडेट करने का जरुरत नहीं है| अगर आपको अपने Searches से काफी पुराना Results दिख रहा है, तब आपको अपने Browser के Cache को Clear कर लेना चाहिए|

Search Engines में पुरे Web को Search नहीं किया जा सकता है| Web का एक बहुत बड़ा हिस्सा है जिसे Search Engine के द्वारा Crawl नहीं किया जा सकता है और उसे Invisible/Deep Web कहा जाता है|

Search Engines किसी भी Web Pages को खुद ही ढूंड लेता है, तो आपको Google को बताने का जरुरत नहीं है की ये आपके Website को Index करे या फिर किसी ख़ास Pages को अपने Database में Add करे| हालाकि इसका कई सारा कारण हो सकता है जिसके वजह से Search Engine ने आपके किसी Pages को Crawl नहीं किया|

कुछ Search Engine में ऐसा Tool दिया रहता है जिसमे आप Request कर सकते है की वे आपके Page को एक बार चेक करे और अपने Index में Add करे ताकि दुसरे लोगो को इसका पता चले| इसका एक उदाहरण Google’s URL Inspection tool है|

Search engine optimization (SEO) एक ऐसा चीज़ है जिसे web content writers सीखता है ताकि वे Search Engine में अच्छा Rank कर सके| Search Engines किसी भी Web Pages को Rank करने के लिए एक खास Algorithm का उपयोग करता है| और ये Keywords से होता की किस Keyword पर किसी Web Content Writers को Search Engine में Rank करना है|

कई सारे Websites में Search Bar होता है जहाँ पर किसी Keywords को Search करने पर हमें उस Websites के ही Articles दीखते है, अगर उस Website में उस Topic पर Article मौजूद हो तो| लेकिन ये बिलकुल भी Web Search Engine के तरह नहीं होता है|