Barcode क्या है और कितने प्रकार के होते है?

0

Barcodes का आविष्कार सन 1952 में Bernard Silver और Norman Joseph Woodland ने किया था| और इस Technology का बहुत ही ज्यादा विकास हुवा और Barcode को अलग अलग Format में दुनिया के सभी देशो में देखा जाता है| Barcodes in Hindi?

ISBN और UPC से लेकर QR Codes तक, Barcodes का उपयोग हर तरह के Data को Track और Process करने के लिए किया जाता है|

निचे हम Barcodes के बारे में हर चीज़ बताएँगे जैसे की Barcodes कैसे काम करता है, Barcodes को कैसे पढ़े, Barcodes का पता कैसे करे, Barcodes कितने प्रकार के होते है इत्यादि|

Barcodes का उपयोग कहाँ पर होता है?

Barcode का उपयोग किसी ख़ास जानकारी को ट्रैक करने के लिए किया जाता है खासकर के Product Sales, Travel और Food में|

निचे कुछ उदाहरण है की Barcodes कहाँ पर उपयोग होता है|

1. Mail से भेजा गया Parcels और Envelopes को Track करने के लिए|

2. प्लेन, बस, और ट्रेन में यात्रियों के सामान का जाँच करने के लिए|

3. Club Membership के Cards में|

4. Website address या Contact information को स्टोर करने के लिए|

5. Bitcoin, या कोई दूसरा Cryptocurrency, Wallet Adress को स्टोर करने के लिए|

Barcode कैसे काम करता है?

Barcode में numbers, letters, या special characters होता है और इसके साथ एक Vertical Lines होता है जिसे Barcode reader device या फिर स्मार्टफोन जिसमे Barcode Scanning App है उसके द्वारा ही समझा जा सकता है| नया Barcode Formats जैसे की QR Codes आपको Square Shape में दिखेगा और इसमें और ज्यादा Complex Coding होता है जो Pixel Artwork का याद दिलाता है|

Barcode को सही तरीके से Scan करने के लिए आपके पास एक Device होना चाहिए जो Code को Scan कर सके और एक System जो Data को पढ़ पाए|

Barcode अपना कार्य करने के लिए Symbology और Scanner के Combination का उपयोग करता है| किसी भी Barcode को पढ़ने के लिए सबसे पहले Scanner का उपयोग होता है ताकि Barcode Symbols को समझा जा सके और जरुरी जानकारी में बदला जा सके| इन जानकारी में ख़ास करके किसी सामान का Origin, Price, Types और Location के बारे में जानकारी होता है| तो जब Scanner Data को पढ़ा जाता है तब ये अपने आप ही जानकारियों को अपने System में Save कर देता है| इन Systems का उपयोग करके बड़े बड़े कंपनी को काफी लाभ होता है| उनके हर एक चीजों को Track किया जा सकता है जिसकी मदद से उन चीजों को अच्छे तरीके से Manage किया जाता है|

One और Two-Dimensional Barcodes क्या होता है?

Barcodes का 2 Main Categories होता है- One-dimensional और Two-dimensional.

One-dimensional barcodes, वैसे Barcodes का 1st Generation है| ये अलग अलग लम्बाई और मोटाई के Vertical Black और White Lines का उपयोग करके जानकारियों को स्टोर करता है| ISBN, UPC, EAN, और  Code 39 codes ये सभी One-dimensional barcodes है|

Two-dimensional barcodes को matrix code या 2D code के नाम से भी जाना जाता है और ये नया Second generation barcodes है| 2D Codes आमतौर पर Square होते है और ये 1D Codes के मुकाबले ज्यादा Data को स्टोर कर सकता है| QR Code, Aztec Code, Data Matrix, और AR Code ये सभी Two-dimensional barcode formats है|

सबसे पोपुलर Barcoders कौन कौन सा है?

दुनिया में कई अलग अलग तरीके का Barcode Formats है जिसे अलग अलग Industries, अलग अलग Companies, अलग अलग कार्यो के लिए उपयोग करते है| यहाँ हम 3 सबसे पोपुलर Barcode Types के बारे में बताएँगे जो आपको सबसे ज्यादा देखने को मिलता है|

1. QR Code: Quick Response Code (QR Code) barcodes कई अलग तरह के Data को Website Adresses से Personal या Business contact information में स्टोर कर सकता है| इसे two-dimensional barcode के नाम से जाना जाता है| ये एक Barcode का Category है जो Traditional black और white vertical line format से अलग है| QR Code का आकार Squaure के जैसा होता है और इसके upper-right, upper-left, और lower-left corners के अन्दर छोटा Squares होता है और बीच में से ये Pixelated artwork के तरह दीखता है| आपने जरुर कभी न कभी QR Codes को Store Windows या Business cards में देखा होगा|

2. ISBN: International Standard Book Number (ISBN) barcodes का उपयोग दुनियाभर के Books और ebooks को Track करने के लिए किया जाता है| Vertical black और White striped barcodes, Unique identification number को स्टोर करता है जिसे एक Published Book में नियुक्त किया जाता है| ये International ISBN Agency के Under में काम करता है| ISBN barcodes में पहले 10 digit numerical codes हुवा करता था लेकिन 2007 से इसे बढ़ाकर 13 Digit का कर दिया गया है|

3. UPC: UPC का Full Form, Universal Product Code होता है| इस Barcodes का उपयोग दुनियाबर में online और physical stores जैसे Product की बिक्री को Track करने के लिए किया जाता है| UPC barcode format में 12 Numbers होता है जिसमे black और white vertical lines होता है और इसका उपयोग सबसे पहले 1974 में हुवा था| UPC Barcodes सिर्फ Numbers को ही स्टोर कर सकता है|

Scanner से Barcode को कैसे Read करे?

Scanner से Barcode को Read करना एक ऐसा चीज़ है जो सिर्फ Business environment में ही किया जा सकता है| आपको इन सब चीजों का जरुरत पड़ेगा|

1. एक Barcode Scanner: अगर आप कोई Business चला रहे है तो आप Barcode scanner device को कई Online marketplaces से खरीद सकते है जैसे Amazon से|

2. एक Computer: Scanner Device से Connect करने के लिए और वहाँ से Information पाने के लिए आपके पास एक Computer या Laptop का होना जरुरी है|

3. एक Product database या Software package: Computer से Connected Scanner से Barcode को Scan करने पर Barcode Number आपके Device में Send हो जाएगा| ये आपको Microsoft Word या Microsoft Excel में दिख जाएगा| लेकिन अगर आप Barcode Scanning का उपयोग Products या Orders को Track करने के लिए करना चाहते है तो आपको Specialized software का जरुरत पड़ेगा जैसे- WASP, CMSStores, EZ OfficeInventory, या Orderhive इत्यादि|