नींद में गिरने की सनसनी

0
81

1. कुछ शोधकर्ताओं का कहना है कि यह तब होता है जब सतर्कता से सोने जाने की प्रक्रिया के दौरान नसे  “अचंभित” होती है |

जब आप जागते हैं, तो आप सतर्क होते हैं और नसों को पता है, जिस समय आप अपने तंत्रिका को बिस्तर पर चले जाते हैं, स्थिति के अनुसार बर्ताव करना शुरू करते हैं। लेकिन कभी-कभी यह भ्रमित हो जाता है कि आप सतर्क हैं या सो रहे हैं और जब आप सो रहे हैं तो आपका तंत्रिका सतर्क संकेत भेजता है। ज्यादातर समय आप इसे ध्यान नहीं देते हैं और कभी-कभी ऐसा होता है जैसे आप गिर रहे हैं।

2. एक अन्य लोकप्रिय मस्तिष्क यह है कि मस्तिष्क ज्यादातर इस छूट के बारे में गलत तरीके से व्याख्या करते हैं कि नींद की पीड़ा एक पेड़ से गिर रही है, और मांसपेशियों को जल्दी प्रतिक्रिया देने के कारण होता है।

जब आप गिर रहे हैं, आपकी मांसपेशियों को अल्ट्रा छूट मोड में जाना जाता है और आपका मस्तिष्क जल्दी से समझता है कि आप गिर रहे हैं और ऐसे तरीके से प्रतिक्रिया करने के लिए संकेत भेजते हैं। कभी-कभी मस्तिष्क के रूप में गिरने के रूप में अपनी मांसपेशियों को छूट मोड में जाने के रूप में सो रही है मिसिंटरप्रेस्ट  और यह उसी तरह प्रतिक्रिया के रूप में अगर आप  एक पेड़ से गिर रहे हैं ऐसी  प्रतिक्रिया होगी |

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY